HOME

 9 Posts 3 Comments 3027 Views

मनी माइंडेड होना सही है या गलत?

‘ना बीवी ना बच्चा, ना बाप बड़ा ना भैया. द होल थिंग इस दैट कि भैया सबसे बड़ा रुपैया.’ ब्लफमास्टर फ़िल्म का ये प्रसिद्ध गाना आज के समय की हकीक़त बयां करता है. सभी पैसे के पीछे भाग रहे हैं यानी सभी मनी माइंडेड होते जा रहे हैं. और हों भी क्यों ना, सभी चीजों के लिए पैसा ही तो लगता है. लेकिन जो मुख्य सवाल सबके सम्मुख खड़ा है, वो ये है कि ये कितना सही है? इसका जवाब…

इस हाई-फाइबर, हाई-प्रोटीन सलाद से अपना वजन घटाएं

सलाद अधिकतर लोगों को अरूचिकर और बेस्वाद लगता है. इतना अरूचिकर कि स्वास्थ्यप्रद होने के बावजूद भी सलाद हमारे दैनिक आहार का हिस्सा नहीं है. सलाद वजन घटाने वाली डाइट का भी एक महत्वपूर्ण अंग है. लेकिन अगर इसे अगर सही तरीके से बनाया ना जाए तो इसे खाना बोरिंग लगने लगता है और हम इसे नियमितता से नहीं खा पाते. अगर आपको लगता है कि सलाद का मतलब केवल हरी-पत्तियां और अच्छी सजावट होता है तो आपको अपनी सोच…

फ़िल्म जिसने कमाई में ‘अवेंजर्स इंड गेम’ को भी पछाड़ दिया

‘अवेंजर्स इंड गेम’ एक ऐसी फ़िल्म रही है जिसे दर्शकों का भरपूर प्यार मिला है. और प्यार कुछ इस तरह का मिला है कि जिसके चलते इस फ़िल्म ने कमाई के कई रिकार्ड तोड़े हैं. लेकिन हाल ही में रिलीज़ हुई एक फ़िल्म ने अपने डोमेस्टिक बॉक्स ऑफिस में ‘अवेंजर्स इंड गेम’ का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है. जिस फ़िल्म की यहाँ बात हो रही है वो है ‘जॉन विक: चैप्टर 3 – पैराबेलम’, जिसने अपने ओपनिंग वीकेंड में $57…

बढ़ती आधुनिकता के साथ बढ़ती सेक्स एजुकेशन की ज़रूरत

21वीं सदी अपने साथ मानवता के लिए अनेक उपहार लेकर आया है. मानव आज जितना आधुनिक और सुविधासंपन्न है उतना पहले कभी नहीं था. सुविधासंपन्न होने का असर ये हुआ है कि अब लोग चीजें खुद से करने की जगह किसी टेक्नोलॉजी के ज़रिए उस काम को पूरा करना चाहते हैं. अब अधिकतर लोगों में खुद कुछ सीखने की आदत ख़त्म होती जा रही है. किताबें पढ़ने की आदत तो और भी कम हो चुकी है. नतीजा यह है कि…

अवसाद की कैद में घुटता समाज

अवसाद या डिप्रेशन, एक ऐसी बीमारी है जिससे आजकल लगभग सभी लोग ग्रसित हैं. लोगों की जीवनशैली में जिस तरह का परिवर्तन हुआ है, उसकी वजह से अवसाद के मामले बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं. बदलता सामाजिक ढांचा, काम का प्रेशर, रिश्तों में खटास आदि अनेक कारण हैं जिनकी वजह से आदमी डिप्रेशन का शिकार हो रहा है. समय के साथ-साथ समाज जितना आधुनिक हुआ है, लोग खुद को उतना ही ज्यादा अकेला महसूस करने लगे हैं. लोग दिखावे के…

भारतीय शिक्षा पद्धति में है किस बदलाव की ज़रूरत?

भारतीय शिक्षा पद्धति यानी इंडियन एजुकेशन सिस्टम आज जिस दौर से गुजर रही है उसे देख कर तो यही लगता है कि बहुत से बाहरी प्रभावों के कारण वह पंगु हो चली है. वह भारतीय कम और इंडियन ज्यादा हो गई है. भारतीयता की कमी नज़र आती है हमारे एजुकेशन सिस्टम में. जब जनमानस का झुकाव ही पाश्चात्य सभ्यता की ओर ज्यादा हो तो ऐसा होना तो लाजमी है. लेकिन अब इस अन्य परिस्थितियों की तरह इसमें भी बदलाव की…

मार्वल (Marvel) की ये 10 आगामी फिल्में नए रेकॉर्ड्स बनाने के साथ ही करेंगी आपका भरपूर मनोरंजन

मार्वल (Marvel) की ये 10 आगामी फिल्में नए रेकॉर्ड्स बनाने के साथ ही करेंगी आपका भरपूर मनोरंजन

डीसी कॉमिक्स मार्वल (Marvel) की सबसे बड़ी प्रतिद्वंदी है. लेकिन यदि साल 2019 की बात करें तो देखते हैं कि मार्वल को कोई भी रोकने वाला नहीं है. इस संबंध में हम पाते हैं कि एमसीयू (मार्वल्स सिनेमैटिक यूनिवर्स) ने इकलौता अपने दम पर लगातार 10 सालों तक हमारे दिलों पर एकछत्र राज किया है, वो भी 0 फेलियर के ट्रैक रेकॉर्ड के साथ. मार्वल के फिल्मों के वितरक फॉक्स और सोनी ने भी अपने गुणवत्ता से बीते सालों में कोई…

आँधी-तूफान (Toofan) में अब तक 60 लोग मरे, जानिए क्या सावधानियाँ बरतनी हैं?

आँधी-तूफान (Toofan) में अब तक 60 लोग मरे, जानिए क्या सावधानियाँ बरतनी हैं?

भयंकर आँधी-तूफान (Toofan) के कारण देश में अब तक 60 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. इसे लेकर लोगों में आशंका बढ़ती जा रही है. इसके अलावा अलग-अलग हिस्सों में बीते पखवाड़े के दौरान चली तेज़ हवाओं और बिजली गिरने की वजह से डेढ़ सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. ज़्यादातर लोग बिजली गिरने, पेड़ गिरने और मकान गिरने की वजह से मारे गए हैं. मौसम विभाग ने सोमवार के लिए भी चेतावनी जारी की है. इसे देखते…

Stress

तनाव का असर किस तरह से होता है आइए इस लेख में जानें

अगर तनावग्रस्त रहते हैं तो इसका अंजाम भी जान लीजिए. तनाव शरीर को सात स्थानों पर ज्यादा चोट पहुंचाता है. तनाव शारीरिक हो या मानसिक, शरीर अपनी ऊर्जा को संभावित खतरे से निपटने में लगा देता है. इस दौरान तंत्रिका तंत्र की ओर से एड्रेनाल गं्रथि को एड्रेनेलाइन और कोर्टिसोल जारी करने का संकेत दिया जाता है. ये दोनों हार्मोन दिल की धड़कन को तेज कर देते हैं, ब्लड प्रेशर बढ़ा देते हैं. पाचन क्रिया तब्दील हो जाती है. खून…