कहते हैं कि पहले इनसान आदत बनाता है फिर आदत इनसान को बनाती है. अच्छी आदतों से हमारा स्वास्थ्य भी निश्चित रूप से सही रहेगा. बहरहाल हम बात कर रहे हैं सोने के तरीके की. क्या आपको पता है, सोने तरीके जो आपके स्वास्थ्य (HealthHealth Tips for Sleeping) के लिए भी अच्छे हैं. शोधकर्ताओं ने यह बात प्रमाणित की है कि अगर आप पीठ या पेट के बल सोने के आदी हैं तो आपको अपनी ये आदत अब बदल लेनी चाहिए. क्योंकि ऐसा कर आप बहुत सी बीमारियों को अपनी तरफ आकर्षित कर रहे हैं.

अच्छे स्वास्थ्य के लिए सोने के तरीके (Health Tips for Sleeping)

1. Health Tips for Sleeping के लिए करवट लेकर सोएं

इसके विपरीत अगर आप तिरछा यानि किसी भी एक करवट पर सोते हैं तो आप अल्जाइमर यानि भूलने की बीमारी और पर्किंसंस, यानि ऐसी बीमारी जिसमें मस्तिष्क की कोशिकाएं मृत हो जाती हैं, से बच सकते हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ रोचेस्टर (अमेरिका) के वैज्ञानिकों ने तिरछा सोने का सुझाव इसलिए दिया है क्योंकि उनका कहना है कि जब व्यक्ति दाएं या बाएं, किसी भी करवट पर सोता है तो उसके मस्तिष्क से हानिकारक रासायनिक विलेय या अपशिष्ट विलेय आसानी से बाहर निकल जाते हैं. जबकि अगर ये विलेय और अपशिष्ट विलेय सही प्रकार से बाहर ना निकल पाएं तो दिमाग अल्जाइमर, पर्किंसंस और अन्य घातक न्यूरोलॉजिकल बीमारियों का शिकार बन जाता है.

अच्छे स्वास्थ्य के लिए सोने के तरीके (Health Tips for Sleeping)

2. न लें बाधित नींद

विशेषज्ञों का तो यह हमेशा से ही कहना है कि जब व्यक्ति की नींद में अप्रत्याशित खलल निरंतर पड़ता रहता है तो उसे अल्जाइमर होने का खतरा बढ़ जाता है. लेकिन अगर व्यक्ति हमेशा पीठ या पेट के बल ही सोता है तो यह याद्दाश्त जाने का एक अन्य कारण बन सकता है. अमेरिकी शोधकर्ताओं ने अपने शोध के जरिए यह बात स्पष्ट की है कि जागने के दौरान दिमाग में जमा होने वाले मेटाबॉलिक अपशिष्ट विलेय या हानिकारक रासायनिक विलेय को निकालने के लिए व्यक्ति को तिरछा ही सोना चाहिए. वैसे तो तिरछा सोना, आरामदायक नींद लेने का एक अच्छा तरीका है, इसलिए ज्यादातर लोग ऐसे ही सोना पसंद करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your name here
Please enter your comment!